हरिवंश राय बच्चन की कवितायेँ

हरिवंश राय बच्चन की कवितायेँ

हरिवंश राय बच्चन की कवितायेँ 1.मैंने गाकर दुख अपनाए!कभी न मेरे मन को भाया,जब दुख मेरे ऊपर आया,मेरा दुख अपने ऊपर ले कोई मुझे बचाए!मैंने गाकर दुख अपनाए कभी न …

हरिवंश राय बच्चन की कवितायेँ Read More