45+ मुझे कोई फर्क नही पड़ता स्टेट्स – Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status (2022)

Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status

Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status – लोगों की बातें सुनना छोड़ दे क्योंकि लोग भी किसी और की सुनते हैं। और जहाँ तक बात सुन्दरता की है तो दुनिया में क्या आप किसी को जानते हो क्या जिससे ज्यादा सुन्दर कोई ना हो सुन्दर मन होना चाहिए चमड़ी तो कुछ दिन के बाद धोखा दे देती है। यदि आपका मन अच्छा है तो सभी आपकी कद्र करेंगे वर्णा कोई नहीं पुछेगा सुरत धरी रह जाएगी। अंत मे सभी हमारा चरित्र ही देखते हैं चेहरा नहीं

नमस्कार साथियों आज फिर हम आपके लिए शानदार और आपके दिल को छू जाने वाले Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status का सबसे अच्छा कलेक्शन किया है। अगर आप Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status की तलाश में हो तो आप सबसे सही लेख मेे आए हो क्योंकि आपको इस लेख की शायरी बहुत ज्यादा पसंद आने वाली है।

अगर आप अपने परिवार दोस्तो के साथ Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status शेयर करना चाहते हो तो हमने नीचे आर्टिकल Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status का सबसे अच्छा इंटरनेट से खोज के कलेक्शन किया है आप कोई भी थॉट का चयन कर शेयर कर सकते हैं।

Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status

हम पर जो गुजरी है तुम क्या सुन पाओगे
नाजुक सा दिल रखते हो रोने लग जाओगे।।

इतना गुरूर किया तूने अपने इस मिट्टी के जिस्म पर
तो जा-जा ये तेरा जिस्म किसी और का हो जाए
मुझे फर्क नहीं पड़ता।।

एक तरफा प्यार कर हरा हूँ में
तुझे भुला ना सकूँ इतना बेचारा
हूँ में।।

हमारा समय कुछ इस तरह आएगा जो नफरत
करता है वो भी हमें चाहेगा।।

ख़त में मेरे ही ख़त के टुकड़े थे और
मैं समझा के मेरे ख़त का जवाब आया है।।

ख़ामोशी छुपाती है ऐब और हुनर दोनों
शख्सियत का अंदाज़ा गुफ्तगू से होता है।।

मेरी खामोशी से किसी को कोई फर्क नही पड़ता
और शिकायत में दो लफ़्ज कह दूं तो वो चुभ जाते हैं।।

जो एक बार नज़रों से उतर गया,
फिर फरक नहीं पड़ता की वो
कहा गया।।

मोहब्बत के उस मुकाम पे जा पहुंचे है हम,
की ना तेरे आने की ख़ुशी ना तेरे जाने का गम।।

क्या कहा लोग नफरत करते है मुझसे,
करो भाई करो, मुझे घंटा फ़र्क़ नहीं पड़ता।।

तब तुझे फ़र्क़ नहीं पड़ा,
अब मुझे फ़र्क़ नहीं पड़ता।।

Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status

कुछ फ़र्क़ नहीं पड़ता उसको,
नाराज़ होकर भी देखा है मेने।।

अब फ़र्क़ नहीं पड़ता बातों से,
क्योकि फ़र्क़ बहोत है अब ज़ज़्बातो में।।

यूँ तो किसी से फ़र्क़ नहीं पड़ता मुझे,
पर है एक शख्स किसका आना खलता है मुझे।।

आज कुछ नहीं बचा, पर खुश हु, अब फ़र्क़ नहीं पड़ता, क्योकि जब फ़र्क़ नहीं पड़ता, ज़िन्दगी में फ़र्क़ तभी आता है।।

जहाँ आपके ना होने से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता,
वहां आपका ना होना बेहतर है।।

बहोत जलील हुआ हु तेरे इश्क़ में,
अब तो किसी और की भी हो जाये तो
फ़र्क़ नहीं पड़ता।।

हम भी कितने ढीट से है कोई कदर नहीं हमारी,
फिर भी थोड़ा वक़्त देने की मांग किया करते है।।

एक वक़्त था जब उनपे जान देते अब उसकी जान भी चली जाये, तो कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता।।

यूँ तो फ़र्क़ नहीं है साँस और हवा में,
पर पहले तू साँस थी और अब हवा।।

Ab Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status

दिल से निकाल फेका है तेरे उस प्यार को
जो दिल में था चूब रहा
भुला देंगे तेरी वो यादे जिनमे
डूबा में खुद रहा।।

उस दिन को भुला दूंगा तेरी यादों को जला दूंगा
फर्क पड़ा अगर तेरे जाने का मुझ पर तो खुद को मिटा दूंगा।।

एक तरफा प्यार कर हरा हूँ में
तुझे भुला ना सकूँ इतना बेचारा हूँ में ।।

अफ़सोस तो उस वक्त करता हूँ जिस वक्त में तुम्हे याद किया करता था छोड़ के सारे कामो को
बस तेरी और सिर्फ तेरी,फरियाद किया करता था।।

दुआओं में सिर्फ तुम्हे माँगा करते थे
मिन्नतें सिर्फ तुझे पाने की किया करते थे
पर अब डर नहीं तुझे खोने का
फर्क पड़ता नहीं तेरा पास होने का या ना होने का।।

तुझे कितना भी चाहूँ और कितना भी प्यार करलूँ
तुझे फर्क नहीं पड़ता अरे फर्क तब पड़ता जब तू किसी एक की होकर रहती।।

तेरी हर चीज अब बयाँ करती है की तुझे गम नहीं है मेरे होने या ना होने का।।

तेरी नाराज़गी भी हमें दर्द दे जाती है पर तुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।।

अगर तुम्हे फर्क नहीं पड़ता तो सुन “तेरी बेरुखी में भी जी लेंगे,ग़मों भरे ज़ाम को भी पिलेंगे।।

यूँ तो रब मान बैठे थे तुम्हे पर अब तो तेरे प्यार से भी कोई फर्क नहीं पड़ता।।

गमो की शाम है पी लेने दो
दर्द भरी रात में जी लेने दो
उसे घंटा फर्क नहीं फर्क नहीं मेरी चाहत का
सितम की रात है मर लेने दो।।

बताना तुझे मिल जाए मुझ जैसा कोई और अगर
जा-जा तू औरों को आजमा ले मुझे फर्क नहीं पड़ता।।

एक वक्त था कि तुझसे बेइंतहां प्यार करता था
अब तो तू खुद मोहब्बत बन चली आए तो
मुझे फर्क नहीं पड़ता।।

मुझे घंटा कोई फरक नहीं पड़ता लोगो की सोच से
मेरी ज़िन्दगी मेरी मर्ज़ी से चलती है किसी की सोच से नहीं।।

वो तरस जाएँगी प्यार की एक बूंद के लिए;
मैं तो बादल हूँ किसी और पे बरस जाऊंगा।।

मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता शायरी

एक वक़्त था जब तेरे रूठे जान से हमे फ़र्क़ पड़ता था … ब तेरो ना होन से भी हमको कोई दूर नहीं है।।

कभी करीब तो कभी जुदा था तू,
जाने किस-किस से ख़फ़ा है तू,
मुझे तो तुझ पर खुद से ज्यादा यकीन था,
पर ज़माना सच ही कहता था कि बेवफ़ा है तू।।

जो भी मेरी_नज़रों से उतर गया,क्या फ़र्क़ पड़ता है,
ज़िंदा है या मर गया।।

यूँ तो किसी से फ़र्क़ नहीं पड़ता मुझे,
पर है एक शख्स किसका आना खलता है मुझे।।

मोहब्बत के उस मुकाम पे जा पहुंचे है हम,
की ना तेरे आने की ख़ुशी ना तेरे जाने का गम।।

मेरे इश्क में दर्द नही था…
पर उसके लिये आँसू और पानी में फ़र्क नही था।।

FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो दोस्तो उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status संग्रह पसंद आया होगा क्योंकि हमने आपको सबसे अच्छी Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status प्रदान करने की कोशिश किया है

अगर आपके मन में Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status को लेकर कोई प्रतिक्रिया होगी तो आप जरुर हमे कॉमेंट बॉक्स में बताए ताकि हम आपकी प्रतिक्रिया का जवाब दे सके ।

और हा दोस्तो अगर आपको Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status पसंद आई होंगी तो आप जरुर अपने दोस्तो और परिवार वालो के साथ जरुर शेयर करें धन्यवाद्

और पड़े – Alone Motivational Status In Hindi
और पड़े – Success Status In Hindi

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published.