TOP International Men’s Day Shayari (2021)

International Men’s Day Shayari
Advertisement

नमस्कार साथियों स्वागत है आपका हमारी पोस्ट International Men’s Day Shayari में हम आपके लिए लाये है International Men’s Day Shayari

Advertisement
अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की शुरुआत 1999 में त्रिनिदाद एवं टोबागो से हुई थी। तब से प्रत्येक वर्ष 19 नवम्बर को ”अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस” दुनिया के 30 से अधिक देशों में मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी इसे मान्यता देते हुए इसकी आवश्यकता को बल दिया और पुरजोर सराहना एवं सहायता दी है। इसलिए ताकि आपको इसे जुड़ी शायरी मिल पाए इसलिए आपके लिए कुछ International Men’s Day Shayari हमने आपके लिए इंटरनेट पर ढूंढ ढूंढ कर एक जगह इकट्ठा किए ताकि आप इन शायरी को पढ़कर आप दोस्तो मित्रो और सोशल मीडिया में शेयर कर सके तो पढ़िए अपनी मातृभाषा हिंदी में बेस्ट

International Men’s Day Shayari

1.मर्द हर दर्द सहकर भी अपना धैर्य खोता नही है, मुसीबत कितनी बड़ी हो पर वो बात-बात पर रोता नही है।।

2.जैसी दिखती है बहार से दुनिया अंदर से बिल्कुल वही नहीं होती, हर लड़का गलत नहीं होता जनाब और हर लड़की सही नहीं होती।

3.पुरुष होना भी आसान कहाँ साहब खुद के ही ख़्वाबों को मारना पड़ता है ज़िम्मेदारियों के नीचे लाकर।।

4.टूटने पर अक्सर कभी रास नहीं आता, ये आइना भी कहीं मर्द तो नहीं।।

5.नारी अगर त्याग की मूरत है, तो पुरुष संघर्ष की सूरत है,कैसे कहूँ महान किसी एक को, दोनों एक दूसरे की ज़रूरत है।।- अन्तर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

6.लड़कियों को अपने कपड़ो में बदलाव लाने की जरूरत नही है,पुरूषों को अपने विचारों में परिवर्तन लाना जरूरी है।।

7.आओ मिलकर पुरुष समाज का सम्मान करें पुरुष एक पिता,बेटा ओर भाई भी है। उसको भी सम्मान दे।।- अन्तर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

8.तुम हो तो हम हैं, हम हैं तो जग है..

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की शुभकामनाएं

और पड़े – Success Status In Hindi
FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो दोस्तों उम्मीद करता हूं आपको हमारी पोस्ट International Men’s Day Shayari पसंद आईं होगी तो आप साझा करना ना भूलना

Advertisement

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *