27+ दोपहर की शायरी | Good Afternoon Shayari In Hindi (2021)

Good Afternoon Shayari In Hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारी इस नई पोस्ट Good Afternoon Shayari In Hindi में आज हम आपके लिए लाये बेस्ट Good Afternoon Shayari In Hindi लाइफ हमने इंटरनेट पर ढूढ ढूढ कर आपके लिए सबसे बढ़िया कलेक्शन एक जगह इकट्ठा किया है ताकि आपके हर एक गुड अफ्टरनून शायरी एक ही जगह आसानी से मिल सके तो पढ़िए अपनी मातृभाषा हिंदी में बेस्ट

Good Afternoon Shayari In Hindi

1.खिलती हुई सुबह अलविदा कह रही है,
और पसीने वाली गर्मी दस्तक दे रही है,
उठ कर तो देखो दोपहर की नज़ारों को
दोपहर वाली सूरज गुड आफ्टरनून कह रही है

– Good Afternoon

2.जब भी मुझे याद तुम्हारी आती है ,
लबो पे मेरे बस यही फ़रियाद आती है
ज़िन्दगी में खुदा हर ख़ुशी दे तुम्हे ,
हमारी तो हर ख़ुशी आपकी ख़ुशी के बाद आती है

– Good Afternoon

3.सूरज चाचा चढ़ पड़े हैं,
धधक धधक हमें तड़पा रहे हैं,
दोपहर की ये बैला बहुत सताती हैं,
मुझे तो हर पल तकिये की याद दिलाती हैं

– Good Afternoon

4.जब तन्हाई में आपकी याद आती है
होंठो पे एक ही फरियाद आती है
खुदा आपको हर खुशी दे
क्यूंकी आज भी हमारी हर खुशी आपके बाद आती है.

– Good Afternoon

5.सर झुकाकर नमस्कार करते हैं,
दिल से मांगी दुआ आपके नाम करते हैं,
अगर स्वीकार हो तो मुस्कुरा देना,
हम ये प्यारा सा आफ्टरनून आपके नाम करते हैं

– Good Afternoon

6.मंज़िल मिलने से दोस्ती भुलाई नही जाती
हमसफ़र मिलने से दोस्ती मिटाई नही जाती

– Good Afternoon

7.बनाने वाले ने भी तुझे
किसी कारण से बनाया होगा
छोड़ा होगा जब ज़मीन पर तुझे
उसके सीने में भी दर्द तो आया होगा

– Good Afternoon

8.हे सूर्य देव तेरा क्या इरादा है
लगता है जैसे गर्मी देकर
मुझको ही पकाकर खाने का इरादा है

– Good Afternoon

9.सच्ची दोस्ती बेज़ुबान होती है
ये तो आँखो से ब्यान होती है
दोस्ती मे दर्द मिले तो क्या?
दर्द मे ही दोस्ती की पहचान होती है।।

– Good Afternoon

10.शुभ दोपहर वाली सूरज मेरे अपनों को पैगाम देना
कि तेज़ धूप दोपहर होने के बाद बिल्कुल भी घर से मत निकलना।।

– Good Afternoon

11.मैंने भी बदल दिए है ज़िन्दगी के उसूल
अब जो याद करेगा वो ही याद रहेगा

– Good Afternoon

12.ठंड के मौसम में कोहरे से भरा शहर,
सोचा सो लूं और थोड़ा जब तक ना हो दोपहर

– Good Afternoon

13.इतना न सताया कर की रात भर न सो सके हम
सुबह को सुर्ख आँखों का सबब पूछते है लोग

– Good Afternoon

14.बिस्तर से उठते ही दोपहर हो जाती है,
ना जाने ये धूप किस चक्की का आटा खाती है

– Good Afternoon

15.लक्ष्य और सपने में एक ही अंतर है,
सपने के लिए बिना मेहनत के नींद आ जाती है,
और लक्ष्य के लिए बिना नींद के मेहनत करनी पड़ती है

– Good Afternoon

16.दोपहर में भी हम चाय पिया करेगें
और गर्मी में भी
गर्म चाय की चुस्की लिया करेंगे

– Good Afternoon

17.यार बनकर यारी निभाना,
हर मुश्किल को हंसकर बिताना,
दोस्त होते ही हैं साथ देने के लिए तैयार रहना,
इसलिए हर रोज गुड आफ्टरनून उनसे कहना

– Good Afternoon

18.आपकी जुदाई हमें रुलाती रहेगी,
याद हमेशा आपकी आती रहेगी,
जब तक इस जिस्म में जान है,
मेरी हर सांस दोस्ती निभाती रहेगी

– Good Afternoon

19.दिल में उम्मीदें बहुत है,
जीवन में दुख बहुत है,
कब की मार देती ये दुनिया हमें,
पर मित्र की दुआओं में दम बहुत है

– Good Afternoon

20.चाहे दिन हो या रात,
या दोपहर की बात हम याद करते हैं
तुम्हे हर पल तुम मुस्काते रहो बनकर सुंदर फूल

– Good Afternoon

21.चाहे दिन हो या रात या दोपहर की बात
हम याद करते हैं तुम्हे हर पल तुम मुस्काते रहो बनकर सुंदर फूल।।

– Good Afternoon

22.बनाने वाले ने भी तुझे किसी कारण से बनाया होगा
छोड़ा होगा जब ज़मीन पर तुझे उसके सीने में भी दर्द तो आया होगा।।

– Good Afternoon

23.सच्ची दोस्ती बेज़ुबान होती है ये तो आँखो से ब्यान होती है दोस्ती मे दर्द मिले तो क्या? दर्द मे ही दोस्ती की पहचान होती है।।

– Good Afternoon

24.चिंता फिकर छोड़ो..अपनो से नाता जोड़ो..
कब काम आयेगा यह।।

– Good Afternoon

25.सपनो की दुनिया मे हम खोते गये,,
होश मे थे फिर भी मदहोश होते गये,,
जाने क्या जादू था उस अजनबी चेहरे मे,,
खुद को बहुत रोका फिर भी उसके होते गये।।

– Good Afternoon

26.एसी कूलर का मजा तो गांव की गर्मी मे है..
लेकिन कमबख्त यहां बिजली ही नही..
दोपहर एक युग सी लगती है..
गर्म हवाओ मे ये जिंदगी ना कटती है।

– Good Afternoon

27.कलियाँ कब से खिल चुकी है,, धीमे खुश्बू के साथ..
दोपहर होने को है अब उठ भी जाओ..
लगता है नही करनी है तुम्हे नए दिन की शुरुआत।।

– Good Afternoon

28.मंज़िल मिलने से दोस्ती भुलाई नही जाती..
हमसफ़र मिलने सेदोस्ती मिटाई नही जाती।।

– Good Afternoon

29.शुभ दोपहर वाली सूरज मेरे अपनो को पैगाम देना..
कि तेज़ धूप दोपहर होने के बाद बिल्कुल भी घर से मत निकलना।।

– Good Afternoon

30.बिस्तर से उठते ही दोपहर हो जाती है..
ना जाने ये धूप किस चक्की का आटा खाती है।।

– Good Afternoon

और पड़े – Alone Motivational Status In Hindi
और पड़े – Success Status In Hindi
FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो दोस्तो उम्मीद है हमारा संग्रहण Good Afternoon Shayari In Hindi आपको पसंद आया होगा तो आप अपने परिवार दोस्तो के साथ जरुर साझा करें

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *