34+ Deep Pain Shayari In Hindi | दर्द भरी शायरी (2021)

Deep Pain Shayari In Hindi

नमस्कार साथियों स्वागत है आपका हमारी पोस्ट Deep Pain Shayari In Hindi में हम आपके लिए लाये है Deep Pain Shayari In Hindi जिंदगी में कुछ परिस्थितियों के कारण जब समय करवट बदलता हैं ,और आपके सामने नए संघर्ष खड़े हो जाते हैं।एक नई चोट,आपको फिर से एक गहरा दर्द दे जाती हैं ,और आप देखेंगे कि ये घाव पिछले घाव से बिल्कुल अलग हैं ,इसका दर्द और चुभन भले ही उतनी ही गहरी हो लेकिन दवा पहले वाली काम नही करेगी । अब फिर से आपको दवा ढूंढनी होंगी ,दर्द बर्दास्त करना होंगा,समय लगेगा। इस मुश्किल समय में कोई ज्ञान काम नही करता। कितना भी साहस जोड़ लो लेकिन जब मुश्किलों के पहाड़ों से टकराती है । तो एक बार चकनाचूर हो ही जाते है ।लेकिन जो टूटकर भी बिखरे नहीं ,सिमट जाए और फिर से नया आकर ले ले वो इंसान बनो इसलिए आपके लिए कुछ Deep Pain Shayari In Hindi हमने आपके लिए इंटरनेट पर ढूंढ ढूंढ कर एक जगह इकट्ठा किए ताकि आप इन शायरी को पढ़कर ढृढ़ता से जीवन में उतरे तो इन शायरी से आपकी जिंदगी बदल सकती है तो पढ़िए अपनी मातृभाषा हिंदी में बेस्ट

Deep Pain Shayari In Hindi

1.शाख से तोड़े हुए फूल ने हंस कर ये कहा,
अच्छा होना भी बुरी बात है ,इस दुनिया में।।

2.ज़ख्म झेले दाग भी खाए बहुत,
दिल लगाकर हम तो पछताए बहुत।।

3.मोहब्बत में किसी का इंतज़ार न करना,
गर हो सके तो किसी से प्यार न करना,
कुछ नहीं मिलता किसी से मोहब्बत करके,
खुद की ज़िन्दगी इस पर बेकार मत करना।।

4.खाते रहे फरेब सँभालते रहे कदम,
चलते रहे जूनून का सहारा लिए हुए ।।

5.ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है,
जुल्फों-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है,
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में,
इश्क ही एक हकीकत नहीं कुछ और भी है।।

6.दिल सिने में अब रहा नहीं
जाते-जाते कुछ कहा नहीं
यूँ सांसें अब भी चलती हैं
क्या जिंदा हूँ मैं ? पता नहीं ।।

7.कुछ आधे-अधूरे काम हुए
मुफ़्त इश्क में हम बदनाम हुए
ये दुनिया लुटा दी, जिनके लिए
उनही के लिए, नाकाम हुए।।

8.ज़िन्दा हूँ मगर सिने में अब दिल ही नहीं है
ये दुनिया मेरे जीने के काबिल ही नहीं है
मैं ताउम्र जिसको समझता रहा मेरा
वो आज मेरी दुनिया में शामिल ही नहीं है।।

9.मेरे जुनूं का नतीजा ज़रूर निकलेगा
इसी सियाह समंदर से नूर निकलेगा
गिरा दिया है तो साहिल पे इंतज़ार न कर
अगर वो डूब गया है तो दूर निकलेगा।।

दर्द सहना शायरी

10.कुछ अपनी भी किस्मत थी ,

कुछ उसके इरादे ठीक न थे जब आँख खुली ,

तो कुछ न दिखा आँखों ने समंदर पाले थे।।

11.तो तय रहा कि , खवाबों में भी अब , तुम न आओगे
कभी गर आ भी जाओ तो , आँखें खोल लेंगे हम।।

12.ज़माने की फितरत से अंजान हूँ,
सच बोलता हूँ, इसलिए परेशान हूँ।।

13.उलझन में उलझ कर, सीखता रहा,सुलझने की कला,
बस यही तजुर्बा साथ है मेरे ज़िन्दगी का।।

14.ये तूफान आना भी ज़िंदगी में ज़रूरी था
नहीं तो हमें शायद पता भी ना होता
ज़िंदगी में हमारी कौन अपना और कौन पराया है।।

15.हाथ थाम के साथ चलने वाले
पता नहीं कब साथ छोड़ देते हैं,
हमने तो कबसे,इस बात का तजुर्बा कर लिया।।

16.मैंने थोड़ा भरोसा,वक्त पर कर लिया,
अच्छे अच्छे चेहरे,बेनकाब हो गए।।

17.खुद की ज़िंदगी से ज्यादा,उन्हें लोगों की फिक्र है।
एक दूसरे से जलने की,बीमारी में आज हर शख्स गिरफ्त है।।

18.ज़िन्दगी की यही कहानी है,धड़कन जीते दिल की निशानी है..चलती रहे तो ठीक,रुक गई तो खत्म कहानी है।

19.बाकी है अभी वो हौसला,हमारे दिल के अंदर।
अब ज़िंदगी में किसी के,आने जाने से फर्क नहीं पड़ता।।

20.हमने बड़ी आसानी से,उनको अपना बना लिया..।
शायद इसलिए उसने,हमें बहुत सस्ता समझ लिया।।

21.इसलिए अपनों से दूर रहते हैं, तकलीफ ना हो उन्हें ज्यादा,हमारे मर जाने के बाद।।

22.दूरियां ही बना ली हमने,
जब पास रह कर खुश नहीं थे।।

23.समंदर का पानी,प्यास नहीं बुझाता..
ज़िन्दगी में ,आजकल,कोई किसी का साथ नहीं निभाता।।

24.नज़रों में गिर गया , वो खुद की,
हमें लोगों की नज़रों से गिराने में
चर्चा यही है,अभी ज़माने में।।

25.ज़िन्दगी से मैंने तजुर्बा कर लिया,
दर्द ही दर्द की दवा है।।

26.बड़ी मुश्किल से खुदको सम्हाला है मैंने, तू वापस
मुझे अपने इश्क में गिरफ्तार ना कर।।

27.ज़िन्दगी में एक बात,याद हमेशा रखते हैं..
हम रिश्ते सबसे रखते हैं,लेकिन उम्मीद किसी से नहीं।।

28.लोग आते हैं,लोग जाते हैं..
सफर ज़िंदगी का,बस यूं ही चलता रहता है ।।

29.कुछ हादसे हो जाते हैं ज़िंदगी में,
इंसान जीता तो है, लेकिन मुर्दों की तरह।।

30.ज़िन्दगी बहुत अजीब है,
सबका अपना अपना नसीब है।।

31.बेनाम सा ये दर्द ठहर क्यों नहीं जाता
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नहीं जाता।।

32.आज तो दिल के दर्द पर हँस कर
दर्द का दिल दुखा दिया मैं ने।।

33.दर्द-ए-दिल कितना पसंद आया उसे
मैं ने जब की आह उस ने वाह की।।

34.जुदाईयोँ के ज़ख़्म दर्द ए ज़िंदगी ने भर दिये
तुझे भी नींद आ गयी मुझी भी सबर आ गया।।

35.मेरा मुस्कुराता चेहरा सब ने देख लिया
जो दिल पर बीत रही है वो कोई क्या जाने।।

और पड़े – Success Status In Hindi
FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो प्रिय पाठको हम उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट Deep Pain Shayari In Hindi पसन्द आई होगी तो आप जरुर साझा करें

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *