Latest 35+ (दर्द भरी बेवफा शायरी ) Bewafa Dard Bhari Shayari (2022)

Bewafa Dard Bhari Shayari

Bewafa Dard Bhari Shayari – बेवफाई का मतलब किसी को भुला देना अक्सर वर्तमान समय मेे लड़का और लड़कियो अगर वह गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड की रिश्ते मेे होते और वो जब दोनों अलग हो जाते है तो बेवफा शब्द का उपयोग करते हैं

तो दोस्तो आज हम आपके लिए Bewafa Dard Bhari Shayari लेकर आए और साथ में हम आपके लिए बेवफा दर्द भरी शायरी ,दर्द भरी बेवफा शायरी इन हिंदी ,बेवफाई दर्द भरी शायरी Dard Bhari Bewafa Shayari
, Sad Bewafa Dard Bhari Shayari ,Dard Bewafa Sad Shayari , Dard Bhari Bewafa शायरी लेकर आए है ।

अगर आप Bewafa Dard Bhari Shayari किसी के साथ शेयर करना चाहते है तो नीचे हमने सबसे अच्छा बेवफा दर्द भरी शायरी ,दर्द भरी बेवफा शायरी इन हिंदी ,बेवफाई दर्द भरी शायरी ,Dard Bhari Bewafa Shayari, Sad Bewafa Dard Bhari Shayari ,Dard Bewafa Sad Shayari , Dard Bhari Bewafa शायरी का संग्रह किया है आप नीचे लेख से चयन कर शेयर कर सकते हैं तो लेख को अंतिम तक पढ़े ।

बेवफा दर्द भरी शायरी || Bewafa Dard Bhari Shayari

1.चलो अब जाने भी दो,क्या करोगे
दास्तां सुनकर खामोशी तुम समझोगी नहीं,
और बयां हमसे होगी नहीं।।

2.बहुत बहुत रोएगी जिस दिन मै याद
आऊँगा और बोलेगी एक पागल था जो
पागल था सिर्फ मेरे लिये।।

3.अक्सर ठहर कर देखता हूँ
मैं अपने पैरो के निशान
वो भी अधूरे लगते है तेरे साथ के बिना।।

4.दिल तो करता है ख़तम कर दूँ
ये दर्द से भरी ज़िन्दगी फिर ख्याल
आता है वो नफरत किस से करेंगे
अगर हम ही न रहे इस जहाँ में।।

5.मुहब्बत में क्यों वेब्फ़ाइ होती है,
सुना था प्यार में गहराई होती है,
टूट कर चाहने वाले के नसीब में,
क्यों सिर्फ फिर तन्हाई होती है।।

6.किसी को न पाने से ज़िंदगी
खत्म नहीं हो जाती, पर किसी को
पाकर खो देने के बाद
कुछ बाकी भी नहीं बचता।।

7.समजने समजाने मे ही गुजर गई तू,
ए जिन्दगी तूजे एकबार भी जी न पाए हम।।

8.महफ़िल में कुछ तो सुनाना पड़ता है
ग़म छुपा कर मुस्कुराना पड़ता है
कभी हम भी उनके अज़ीज़ थे
आज-कल ये भी उन्हें याद दिलाना पड़ता है।।

9.कौन करता है यहाँ प्यार निभाने के लिये,
दिल तो बस एक खिलौना है जमाने के लिये ।।

10.टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।।

बेवफाई दर्द भरी शायरी || Dard Bhari Bewafa Shayari

11.किसी और के बाहों में रहकर,
वो हमसे वफ़ा की बाते करते हैं,
ये कैसी चाहत है यारो,
वो बेवफा है जानकर भी,
हम उन्ही से प्यार करते हैं..

12.वो सागर नही आंसू थे मेरे,,
जिस पर वो कश्ती चलाते रहे..
मंज़िल मिले उन्हे यही आरज़ू थी मेरी,,,
इसलिए हम आँसू बहाते रहे……

13.बरबाद कर गया वो जिंदगी प्यार के नाम से,
बेवफाई मिली सिरफ वफा के नाम से,
ज़ख्म ही ज़ख्म दिया उसने दावा के नाम से,
खुद भी रो पड़ी वो मेरी मोहब्बत के अंजाम से….

14.हम जिंदगी से दूर रहे,
तेरी खुशी के लिए हर खुशी से दूर रहे,
इस से भी क्या बढ़कर वफा होगी हम
तेरे होते हुए भी तुमसे दूर रहे…..

15.वो हमसे मिली भी तो बेवफा बन के मिली,
मेरे गुनहा उतने नहीं थे, जितनी मुझे सजा मिली

16.जजब कोई मजबूरी में जुदा होता है,
जरूरी नहीं है कि वो बेवफा होता है,
देकर वो तुम्हारी अश्को में आँसू,
अकेले में तुमसे ज्यादा रोता है।

17.वफ़ा की उम्मीद मत करो लोगो से,
लोग वक़्त चलते बेवफ़ा हो जाते हैं,
मंज़िल की उम्मीद मत करो लोगो से,
लोग साथ चलते चलते रूख मूड जाते हैं।

18.दिल के करीब आके जब वो दूर हो गए,
सारे हसीन ख्वाब चूर-चूर हो गए,
हमने वफा निभाई तो बदनामी मिली,
और वो बेवफाई करके भी मशूर हो गए।

19.इंसान के कांधो पे इंसान जा रहा था,
कफन में कुछ कुछ अरमान जा रहा था,
जिस्को मिली बेवफाई प्यार में,
वफा की तलाश में वो कबीरस्तान जा रहा था

20.जब वफ़ा की बात आई तो हमने,
दिल हाथ पे रख दिया, उसने कहा कोई और काम करो,
ऐसे खिलाड़ियों से हम रोज खेला करते हैं

दर्द भरी बेवफा शायरी इन हिंदी || Dard Bhari Bewafa Shayari

21.रोज़ रोते हुए कहती है ज़िन्दगी,
एक बेवफ़ा के लिए मुझे बर्बाद मत कर..

22.जब तक न लगे बेवफ़ाई की ठोकर दोस्त,
हर किसी को अपनी पसंद पर नाज़ होता है..

23.जाते-जाते उसके आखिरी अल्फाज़ यही थे,
जी सको तो जी लेना मर जाओ तो बेहतर है।।

24.अब हम सिर्फ दोस्त है.. कुछ इस तरह भी हुआ करती है अधूरी मोहब्बत की कहानियाँ ।।

25.उस इंसान के लिए आखिर कब तक रोता रहूँगा,
जो हमे छोड़ कर किसी और के साथ खुश हैं।।

26.खुदा ने पूछा क्या सज़ा दूँ उस बेवफ़ा को,
दिल ने कहा मोहब्बत हो जाए उसे भी।।

27.बेवफाई का मौसम भी अब यहाँ आने लगा है,
वो फिर से किसी और को देख कर मुस्कुराने लगा है।।

28.पगली जो चाहे वो करना जिंदगी में, लेकिन एक गुजारिश है कभी किसी से अधूरा प्यार मत करना।।

29.समेट कर ले जाओ अपने झूठे वादों के अधूरे क़िस्से
अगली मोहब्बत में तुम्हें फिर इनकी ज़रूरत पड़ेगी।।

30.आज फिर इस तन्हा रात में इंतज़ार है उसका,
जो कहा करते थे तुमसे बात न करू तो नीद नहीं आती।।

Dard Bhari Bewafa शायरी

31.लफ़्ज़ों को मेरे फरेब मत समझना
सताए जब भी याद हमारी तो
मिलने की दुआ मत करना।।

32.झूठे अल्फ़ाज़ तो नही मेरे
इन पर तो बेवजह शक ना कर
अब तो नाम भी याद नही हमारा
ऐसे बेवफाई तो हमसे ना कर।।

33.दिल मे कभी ऐसी तमन्ना नही थी कि तुम्हे भुला दु
कभी ऐसी आरजू ना की हमने कि तुम्हे रूला दु
याद आज भी उतना ही करते है सोचा तुम्हे बता दु ।।

35.किसी से इतनी मोहब्बत भी ना हो खुदा
की तकलीफ को भी ना सह पाए
जो दिल को तोड़ जाए
फिर कभी उसकी याद ना आये।।

36.अब तो आदत सी हो गई इश्क़ के दर्द को सहने की
तू क्या जख्म देगी मुझे अब हमें फरक नही पड़ता
मोहब्बत मैं ऐसे दिल टूट जाने की।।

FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो दोस्तो उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा Bewafa Dard Bhari Shayari संग्रह पसंद आया होगा तो आप आप शेयर करना ना भूले ।

और अगर आपके मन में Bewafa Dard Bhari Shayari लेख को लेकर कोई प्रतिक्रिया होगी तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं ।

और पड़े – Alone Motivational Status In Hindi
और पड़े – Success Status In Hindi

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published.