50+ Baat Nahi Karne Ki Shayari – बात नही करने की शायरी (2022)

50+ Baat Nahi Karne Ki Shayari - बात नही करने की शायरी (2022)

Baat Nahi Karne Ki Shayari – प्रेम एक त्याग है, प्रेम में पड़ने वाले दो लोगो को एक दूसरे की खुशियां की कामना करनी चाहिए,न कि उनके जरिये अपनी खुशी की इच्छा और अंतिम तथा आपके काम की बातआप अपने प्यार को खुला छोड़ दे,अगर वो आपका होगा तो आपके पास आ जायेगा अगर नही आया तो ये सोचकर कि वो आपका था ही नही उसे भूल जाना और एक नई जिंदगी जीना।

हैलो दोस्तो आज फिर हम आपके लिए सबसे अच्छे और आपके दिल को छू जाने वाली Baat Nahi Karne Ki Shayari का सबसे अच्छा कलेक्शन किया है। अगर आप Baat Nahi Karne Ki Shayari की तलाश में हो तो आप सबसे सही लेख मेे आए हो क्योंकि आपको इस लेख की शायरी बहुत ज्यादा पसंद आने वाली है। अगर आप अपने प्यार और दोस्तो के साथ Baat Nahi Karne Ki Shayari शेयर करना चाहते हैं

तो हमने नीचे लेख में Baat Nahi Karne Ki Shayari का सबसे अच्छा इंटरनेट से खोज के कलेक्शन किया है आप कोई भी थॉट का चयन कर शेयर कर सकते हैं। तो दोस्तो आशा करते है आपको हमारे आर्टिकल द्वारा Baat Nahi Karne Ki Shayari प्रदान किया गई है जो आपको बहुत ज्यादा शानदार और पसंद आयेगी तो आप नीचे लेख को पूरा ध्यान से पढ़े ।

Baat Nahi Karne Ki Shayari

रोते हुए को हसाने की क्या सजा पा गया
मेरी जिंदगी की खुशी उसको मिली,
और उसकी जिंदगी का हर गम मेरे हिस्सो मेे आ गया।।

कुछ दिन बात नहीं करने से कोई बेगाना
नहीं होता कोई भी दोस्त इतना पुराना
नहीं होता दोस्ती में गिले-शिकवे तो चलते
रहते हैं पर इसका मतलब दोस्तों को
भुलाना नहीं होता।।

दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाजों को ये ज़माना क्या जाने
होती है इतनी तकलीफ लड़की पटाने में
ये घर बैठा उसका बाप क्या जाने।।

कितना फर्क हैं ना हम दोनो की चाहत में
मुझे तुम्हे याद करने से फुर्सत नही और
तुम्हे मुझे याद करने की फुर्सत नही।।

तेरी हर बात मेरे दिल को छू कर निकलती हैं
इसीलिए मुझसे सोच समझ कर बात करना
कही आप की बातें मेरा दिल को तोड़ न दे।।

सिर्फ़ एक सफ़ाह पलटकर उसने, बीती बातों की दुहाई दी है, फिर वहीं लौट के जाना होगा,यार ने कैसी रिहाई दी है।।

दिल का हाल बताना नहीं आता;
किसी को ऐसे तड़पना नहीं आता;
सुनना चाहते है आपके आवाज़;
मगर बात करने का बहाना नहीं आता।।

Baat Nahi Karne Ki Shayari

एक वक्त था जब बाते ही खत्म नहीं होती थी,
आज सबकुछ खत्म हो गया मगर बात ही नहीं होती।।

हमें आदत नहीं हर एक पे मर मिटने की;
तुझे में बात ही कुछ ऐसी थी;
दिल ने सोचने की मोहलत ना दी।।

कभी किसी से बात करने की आदत मत
डालना, क्यों की अगर वो बात करना
बंद कर दे तो, दुबारा जीना मुश्किल
हो जाता है।।

अंधेरी रात में अधूरी ख्वाहिशे लिए फिरता हूं
दिल में तेरी यादे और बाते लिए फिरता हूं।।

तेरे मेरे दरमियां जो बात थी
उसमें अब दूरियां आने लगी है
गमो की बरसात इस
दिल पर छाने लगी है।।

मेरी पलकों की नमी इस बात की गवाह है,
मुझे आज भी तुमसे मोहब्बत बेपनाह है।।

बात तो वो आज भी करती है
बस फर्क़ इतना है, कल हमसे करती थी
आज किसी और से करती है।।

बातें तो हर कोई समझ लेता है
मगर हम वो चाहते है जो हमारी
ख़ामोशी को समझे ।।

Wo Baat Nahi Karte Shayari

छोड़ दिया मैंने भी किसी को परेशान करना
जिसकी खुद मर्जी ना हो बात करने की
उससे जबरदस्ती क्या करना।।

मजबूर नहीं करेंगे तुम्हें बात करने के लिए
चाहत होती तो दिल तुम्हारा भी करता बात करने का।।

कभी वक्त मिले तो सोचना जरूर
वक्त और प्यार के अलावा
तुमसे मांगा ही क्या था।।

उनसे बात नहीं होती
किसी और से बात
करने का मन नहीं करता।।

ना जाने ये कैसा तरीका है तुम्हारे प्यार करने का,
की तुम्हारा मन ही नहीं करता हमसे बात करने का।।

तरस जाओगे मेरे लबों से कुछ सुनने को,
बात करना तो दूर हम शिकायत भी नहीं करेंगे।।

Baat Nahi Karne Ki Shayari

नादान है बहुत वो, ज़रा समझाइए उसे,
बात न करने से मोहब्बत कम नहीं होती।।

तुम बात ना करो, कोई बात नहीं,लेकिन यह जान लो,
बात करने की शुरुआत वही करेगा, जो बेपनाह मोहब्बत करता हो।।

हिचकियाँ कहती हैं कि तुम याद करते हो,
पर बात नहीं करोगे तो एहसास कैसे होगा।।

बिन बात के ही रूठने की आदत है,किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,आप खुश रहें, मेरा क्या है,
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।।

मेरी तबाही का ‘इलज़ाम’ अब शराब पर है,
करता भी क्या “बात” जो तुम पर आ रही थी।।

Koi Baat Nahi Shayari

रहती है, चुप सी बात नहीं करती तू भी नाराज़ है मुझसे मेरी खुशियों की तरह।।

अहमियतआपकी बतानहीं सकते रिश्ता क्या है, आपसेमेरा समझा नहीं सकते।।

खुद का भी हाल देखने की फुरसत नहीं है मुझे और वो औरो से बात करने का इलज़ाम लगा रहे है।।

आज वो कुछ रूठे-रूठे से है।
दिल में कुछ बात छुपाए से हे।।

जब में खुश होता हूँ,तो वो-भी खुश होता हैं, मैं बात आईने की कर रहा हूँ इंसान की नहीं।।

दर्द की वो बात नहीं करते है
दर्द तो तब होता है जब वो देख कर इग्नोर करते है।।

यार खामोशी से अच्छा तुम लड़ाई करलो कम से कम बात तो होगी।।

तंग नहीं करते हम आजकल ये बात भी उन्हें तंग करती है।।

बात करते-2 चुप हो जाती हो। गुस्सा करती नही बस ऑफलाइन हो जाती हो।।

कितना अजीब है कोई मरता रहता है, बात करने को और कोई परवाह तक नहीं करता है, बात करने के लिए।।

बदले है मिजाज उनके कुछ दिनों से वो बात तो करते हैं मगर कुछ भी बात नहीं करते।।

Dil Ki Baat Shayari

भूल कर भी अपने दिल की बात किसी से मत कहना,
यहाँ कागज भी जरा सी देर में अखबार बन जाता है।।

रिश्ते और रास्ते तब खत्म हो जाते है,
जब पाँव नही दिल थक जाते है।।

दिल की बात अक्सर हम उन्हें बताते हैं,
जिन्हें ख़ुद से भी ज्यादा चाहते हैं।।

मेरे दिल में, मेरे अहसासों में हो तुम यारा,
शायद इसलिए हम मिले है तुमसे दोबारा।।

दिल की बातें जुबां पर आने दो,
इश्क़ में दिल बहके तो बहक जाने दो।।

दिल की बात उसको बता न सका,
इश्क़ है उनसे कितना ये जता न सका।।

दिल की बातें यूं ही बताई नहीं जाती,
इश्क़ सच्ची हो तो छुपाई नहीं जाती।।

हर आदमी अपना अपना दरख़्त अलग अलग उगाना चाहता है यही वजह है के इंसानियत का बाग़ तैयार नहीं होता।।

मिलना है तो आ जीत ले मैदान में मुझ को
हम अपने काबिले से बगावत नहीं करते।।

हैरत से तक रहा है जहाँ वफ़ा मुझे
तुमने बना दिया है मोहब्बत में किया किया मुझे।।

Koi Kisi Ka Nahi Hota Shayari

कभी अपनों के बीच पराया लगता हूं
कभी प्यारों के बीच अपने घर आया लगता हूं।।

अपनों के बीच अब अपनापन नहीं
अपनों के पास जाने का अब करता मन नहीं।।

आपके आस पास ऐसे अनेक लोग हैं
जिनमें से कुछ एक आपका भला सोचते हैं
बाकी करते आपको उपयोग है।।

सबूत की जरूरत जब पड़ने लगती है रिश्तो में
अपनों से मिलने लगता है अपने ही किस्तों किस्तों में।।

जिसने दूसरों की खुशी के लिए अपनी खुशी को मारा है
इतिहास गवाह है दुनियां ने सबसे पहले उसी को मारा है।।

Koi Kisi Ka Nahi Hota Shayari

जब भारी होती है जेब आपकी लोग आपके साथ खड़े तभी होते है वरना कोई किसी का नहीं होता लोग सब मतलबी होते है।।

कोई किसी का नहीं सब सपने है बस भरी रखो जेब पैसो से अगर करीब आपको अपने रखने है।।

कोई किसी का नहीं होता यहां पे
ये दुनिया है ही ऐसी कि अपने तक ढूंढते हैं अपने है कहां पे।।

बुरे वक़्त में जो साथ दे वो ही अपना होता है,
बाकी सब एक झूठा सपना होता है।।

यहाँ अपना कोई नहीं मुर्शद
ये दुनिया धोखेबाज़ो से भरी पड़ी है।।

FOLLOW NOW – INSTAGRAM

तो दोस्तो आशा करते हैं हमारा Baat Nahi Karne Ki Shayari संग्रह आपको अच्छा लगा होगा क्योंकि हमने आपके लिए सबसे अच्छा संग्रह करने की कोशिश किया है अगर आपको Baat Nahi Karne Ki Shayari को लेकर कोई प्रतिक्रिया होगी तो आप जरुर हमे कॉमेंट बॉक्स में बताए ताकि हम आपकी प्रतिक्रिया का जवाब दे सके।

और अगर हमारी Baat Nahi Karne Ki Shayari पोस्ट पसंद आई होंगी तो अपने गर्लफ्रेंड , दोस्तो और करीबी के साथ शेयर करना ना भूले धन्यवाद्।।

और पड़े –Mujhe Koi Fark Nahi Padta Status

और पड़े – Dua Shayari In Hindi

About Surendra Uikey

Surendra Uikey Is A Co-Founder Of Motivational Shayari. He Is Passionate About Content Writer Shayari, Quotes, Thoughts And Status Writer

View all posts by Surendra Uikey →

Leave a Reply

Your email address will not be published.